पंचायत सचिव भर्ती: 22 अक्तूबर को परीक्षा, इस दिन से डाउनलोड हो सकेंगे एडमिट कार्ड

हिमाचल प्रदेश पंचायती राज विभाग ने विश्वविद्यालय (HPU) को पंचायत सचिवों के 239 पदों के लिए छंटनी परीक्षा करवाने के लिए जिम्मेदारी दी थी। 
 | 
English Exam : चंबा में पहले पेपर में पकड़े 34 नकलची

शिमला। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय (HPU) 22 अक्तूबर को पंचायत सचिव (Panchayat Secretary) की भर्ती की परीक्षा करवाएगा। परीक्षा आयोजित करने की HPU ने तैयारियां कर ली हैं। कोरोना संक्रमण के कारण पंचायत सचिव (Panchayat Secretary) भर्ती की परीक्षा कवाने में देरी हुई है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में 239 पंचायत सचिवों की भर्ती की जाएगी। इसके लिए हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय परीक्षा आयोजित करवा रहा है। हिमाचल प्रदेश में Panchayat Secretary भर्ती की परीक्षा के लिए HPU ने प्रदेश भर में 93 परीक्षा केंद्र स्थापित किए गए हैं। इन परीक्षा केंद्रों में लगभग 26 हजार अभ्यर्थी परीक्षा देंगें।
  

परीक्षा के बैठने के लिए एडमिट कार्ड 15 अक्तूबर से जारी होंगे। अभ्यर्थी आवेदन फार्म ऑनलाइन भरने के लिए प्रयोग किए आईडी और पासवर्ड का प्रयोग कर एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे। हिमाचल प्रदेश पंचायती राज विभाग ने विश्वविद्यालय (HPU) को पंचायत सचिवों के 239 पदों के लिए छंटनी परीक्षा करवाने के लिए जिम्मेदारी दी थी। विवि ने सरकार के आदेशों पर 17 दिसंबर 2020 को अधिसूचना जारी कर आवेदन आमंत्रित किए थे। 17 जनवरी तक आवेदन की अंतिम तिथि तय की गई थी। इसे 31 जनवरी तक बढ़ा दिया गया था। परीक्षा के लिए विवि की ओर से तय की गई 12 सौ रुपये की फीस पर बवाल भी हुआ था। 


कोरोना के कारण विवि पंचायत सचिव (Panchayat Secretary) की भर्ती परीक्षा नहीं करवा पाया। अब जबकि परीक्षा की तिथि तय कर दी गई है, तो विवि ने परीक्षा के लिए सभी तैयारियां भी पूरी कर ली हैं। परीक्षा के लिए पूरे प्रदेश भर में 93 परीक्षा केंद्र स्थापित होंगे। इनमें औसतन 250 से 300 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। परीक्षा डेढ़ घंटे की होगी। परीक्षा सुबह 11 से दोपहर साढ़े बारह बजे तक होगी। जल्द विवि की वेबसाइट पर जिलावार परीक्षा केंद्रों और अभ्यर्थियों की जानकारी उपलब्ध होगी। 

HPU के परीक्षा नियंत्रक डॉ. जेएस नेगी ने कहा कि परीक्षा की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। अभ्यर्थियों की ओर से भरे गए परीक्षा केंद्रों के मुताबिक ही नजदीकी केंद्र बनाए गए हैं। कांगड़ा में सबसे अधिक 30 परीक्षा केंद्रों में 8,878 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। शिमला में 18 केंद्र और  4,453 अभ्यर्थी,  मंडी में 16 केंद्र और 5,021 अभ्यर्थी और किन्नौर में स्थापित किए गए एक केंद्र में 56 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।