हिमाचल उपचुनाव: चार कवरिंग उम्मीदवारों समेत छह नामांकन रद्द, जानें कौन-कौन बचा चुनावी रण में

हिमाचल प्रदेश की मंडी संसदीय सीट सहित अर्की, जुब्बल कोटखाई और फेतहपुर विधानसभा सीटों पर 30 अक्टूबर को उपचुनाव के लिए मतदान होगा। 

 | 
election

शिमला। हिमाचल प्रदेश में होने वाले उपचुनाव के लिए छंटनी प्रक्रिया पूरी हो गई है। इसके साथ ही 06 उम्मीदवारों के नामांकन रद्द हो गए हैं। इनमें चार कवरिंग प्रत्याशी थे, जबकि दो निर्दलीय के नामांकन रद्द हुए हैं। हिमाचल प्रदेश की मंडी संसदीय सीट सहित अर्की, जुब्बल कोटखाई और फेतहपुर विधानसभा सीटों पर 30 अक्टूबर को उपचुनाव के लिए मतदान होगा। निर्वाचन विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि छंटनी के उपरान्त चार कवरिंग उम्मीदवारों सहित कुल छह उम्मीदवारों के नामांकन अस्वीकृत किए गए हैं।


उन्होंने कहा कि मंडी संसदीय क्षेत्र से छह उम्मीदवारों के नामांकन सही पाए गए हैं। इनमें भाजपा के उम्मीदवार ब्रिगेडियर कुशाल चंद ठाकुर, आइएनसी की प्रतिभा सिंह, राष्ट्रीय लोकनीति पार्टी की अम्बिका श्याम, हिमाचल जनक्रांति पार्टी के मुन्शी राम ठाकुर और निर्दलीय उम्मीदवार अनिल कुमार व सुभाष मोहन स्नेही शामिल हैं। यहां से कांग्रेस पार्टी के कवरिंग उम्मीदवार सुन्दर सिंह ठाकुर व भाजपा की कवरिंग प्रत्याशी प्रियंता शर्मा का नामांकन अस्वीकृत किए गए हैं।


अर्की विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी रत्न सिंह पाल, कांग्रेस पार्टी के संजय अवस्थी और निर्दलीय प्रत्याशी जीत राम के नामांकन सही पाए गए हैं। यहां से इंडियन नेशनल कांग्रेस के कवरिंग उम्मीदवार सतीश कुमार कश्यप का नामांकन अस्वीकृत हुआ है। प्रवक्ता ने कहा कि जुब्बल-कोटखाई विधानसभा क्षेत्र से चार उम्मीदवारों के नामांकन सही पाए गए हैं। इनमें भाजपा कि नीलम सरैइक, इंडियन नेशनल कांग्रेस के रोहित ठाकुर, निर्दलीय प्रत्याशी चेतन सिंह बरागटा और सुमन कदम शामिल हैं। यहां से निर्दलीय प्रत्याशी केवल राम नेगी का नामांकन तकनीकी कारणों से अस्वीकृत हो गया है।

उन्होंने बताया कि फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र से पांच प्रत्याशियों के नामांकन सही पाए गए हैं जिनमें भाजपा के बलदेव ठाकुर, इंडियन नेशनल कांग्रेस के भवानी सिंह पठानिया, हिमाचल जनक्रांति पार्टी के पंकज कुमार दर्शी और निर्दलीय प्रत्याशी डॉ. अशोक कुमार व डॉ. राजन सुशान्त शामिल हैं। यहां से इंडियन नेशलन कांग्रेस के कवरिंग उम्मीदवार जीत कुमार का नामांकन स्वतः अस्वीकृत हो गया जबकि निर्दलीय प्रत्याशी प्रेम चन्द का नामांकन तकनीकी कारणों से अस्वीकृत किया गया है।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।