KCC बैंक में करूणामूलक आधार पर मिल सकेगी नौकरी

KCCB के निदेशक मंडल ने लंबे समय से लटके करुणामूलक आधार पर नौकरी देने के मामले को हरी झंडी दे दी है।
 | 
KCCB के निदेशक मंडल ने लंबे समय से लटके करुणामूलक आधार पर नौकरी देने के मामले को हरी झंडी दे दी है।

धर्मशाला। कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक सीमित (KCCB) में अब करुणामूलक (Compassionate) आधार पर भी नौकरी मिल सकेगी। KCCB के निदेशक मंडल ने लंबे समय से लटके करुणामूलक आधार पर नौकरी देने के मामले को हरी झंडी दे दी है। कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक सीमित (KCCB) के निदेशक मंडल (Board Of Directors) की बैठक वीरवार को बैंक के अध्यक्ष डॉ. राजीव भारद्वाज की अध्यक्षता में हुई। इसमें लंबे समय से लटके करुणामूलक आधार पर नौकरी देने के मामले को हरी झंडी दे दी गई है।


डॉ. राजीव भारद्वाज ने बताया कि प्रदेश सरकार (Himachal Gov't) की पॉलिसी यानी पहले कांट्रैक्ट पर और फिर नियमित तौर पर नौकरी देने का निर्णय बैंक के निदेशक मंडल ने लिया है। यह मामले लंबे समय से इसलिए लटका था कि सरकार के नियमानुसार नौकरी पहले कांट्रेक्ट और फिर नियमित की जाती है, जबकि बैंक सीधे नियमित नौकरी देता है। ऐसे में अब निदेशक मंडल ने सरकारी नियमों के तहत करूणामूलक आधार पर नौकरी देने का निर्णय लिया है। बैंक में अभी 16 मामले ऐसे हैं, जिन्हें इस निर्णय से बड़ी राहत मिलने वाली है।

बैंक में नई भर्तियां करने और नई शाखाएं खोलने के सवाल पर डॉ. राजीव भारद्वाज ने कहा कि जब उन्होंने बैंक अध्यक्ष का जिम्मा संभाला तो बैंक की माली हालत खराब थी। लेकिन अब बैंक करीब चार करोड़ से अधिक के लाभ की स्थिति में आ गया है। ऐसे में अब इस मामले को आरसीएस से उठाया जाएगा। इसके लिए कुछ दिनों में उनकी बैठक आरसीएस से होगी। डॉ. राजीव भारद्वाज ने बताया कि शुक्रवार को धर्मशाला में एजीएम की वार्षिक बैठक होगी। इसमें प्रदेश भर के विभिन्न जिलों से डेलीगेट और निदेशक मंडल के सदस्य भाग ले रहे हैं। 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।