भाजपा की चिंता छोड़ें, अपनी चिंता करें कांग्रेस नेता राजेंद्र राणा: भाजपा

भाजपा ने कहा कि विधायक राजेंद्र राणा अपनी सीट को बचाने की कोशिश करें और टिकट लेने का इंतजाम करें। कहीं ऐसा न हो ख्वाब में सिद्धू होते होते कोई किनारा ही न मिले।
 | 
.

हमीरपुर। सुजानपुर विधायक राजेंद्र राणा अपनी सीट को बचाने की कोशिश करें और टिकट लेने का इंतजाम करें।  कहीं ऐसा न हो ख्वाब में सिद्धू होते होते कोई किनारा ही न मिले और रही विकास की बात तो कांग्रेस रूपी चश्मे से सिर्फ अंधेरा ही नजर आएगा। अपनी खुली आंखों से देखे तो उन्हें पूरे हिमाचल में नई तकनीक का विस्तार विकास नजर आएगा। अक्सर देखा गया है डूबती नैया हिचकोले बहुत खाती है और वही हालत कांग्रेस विचारधारा और उनके नेताओं की हो चुकी है।  विधायक राणा की नैइया तो डूब चुकी है परंतु चिंता उसे भाजपा पार्टी की लगी हुई है।  यह बात मीडिया प्रभारी विनोद ठाकुर, भाजपा नेता विक्रम ठाकुर ने  जारी प्रेस व्यान में कहीं।

विक्रम ठाकुर ने तंज कसते हुए कहा कि राजेंद्र राणा विधानसभा चुनावों में अपनी हार को देख निश्चित तौर से बौखला गए हैं। इसीलिए पिता और पुत्र बिना तथ्यों के और अधूरी जानकारी रख भोली भाली जनता को बरगलाने की कोशिश करते रहते हैं। उन्होंने आईना दिखाते हुए कहा की उनका भी हाल पंजाब में जो सिद्धू के साथ हुआ है   वही हाल उनको भी अपना होता नजर आ रहा है। उन्होंने कहा कि विधायक राणा को नजर आ रहा है कि उनकी राजनीति नैइया अब डूबने वाली है। इसीलिए वह भाजपा की चिंता छोड़ सबसे पहले अपनी पार्टी से टिकट लेने की चिंता करें, क्योंकि कांग्रेस पार्टी भी टिकट देगी या नहीं । भाजपा विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है, उन्हें राणा की नसों की जरूरत नहीं है, और रही विधायक राणा और  पुत्र अभिषेक कि जिस तरह से में स्वास्थ्य कर्मियों व डॉक्टरो की सेवा को बदनाम करने पर लगे हैं । वह न भूले कि उनकी सरकारों ने हमेशा हिमाचल की जनता के शोषण का ही काम किया है।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में मोदी सरकार, जयराम सरकार, पूर्व मुख्यमंत्री  प्रेम कुमार धूमल और कैबिनेट मंत्री अनुराग ठाकुर की ही सोच है कि आज हिमाचल में अनेकों मेडिकल कॉलेज एम्स पीजीआई सेटेलाइट सेंटर ऊना व सभी पुराने हॉस्पिटलों का नया विस्तारीकरण और नई मशीनरी व तकनीकों को लाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि  सांसद मोबाइल सेवा, जिसका उदाहरण पूरे देश में दिया जाता है और कोरोना महामारी के समय एक संजीवनी बूटी साबित हुई सांसद मोबाइल सेवा। उन्होंने कहा कि राणा परिवार को और अगर विकास देखना है तो अपना कांग्रेसी रूपी चश्मा खोल बिलासपुर आए और देखें एम्स को बनते हुए देखें। सभी मेडिकल कॉलेजों को भी बनते हुए देखें दावे के साथ बोलते हैं। सोच भी बदलेगी और नजरिया भी बदलेगा, हिमाचल को बढ़ते हुए देख।

भाजपा पदाधिकारियों ने कहा कि चिंता न करें आने वाले समय में लोग हिमाचल में इलाज करवाने आएंगे। अभिषेक राणा को अगर आंकड़े एकत्रित करने का इतना ही शौक है तो कांग्रेस सरकार  कार्यकाल के आंकड़े एकत्रित करें। उन्होंने अपने शासनकाल में कितना भ्रष्टाचार और शोषण किया है उसका एहसास हो जाएगा। 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।