स्वास्थ्य निदेशक ने सीएमओ से मांगा पीएचसी चकमोह भवन एस्टीमेट

ग्राम विकास सभा चकमोह द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चकमोह के भवन अपग्रेड करने हेतु एक करोड़ बजट मांगने के मामले में स्वास्थ्य विभाग ने कार्यवाही की है
 | 
.

हमीरपुर ।   ग्राम विकास सभा चकमोह द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चकमोह के भवन अपग्रेड करने हेतु एक करोड़ बजट मांगने के मामले में स्वास्थ्य विभाग ने कार्यवाही की है। स्वास्थ्य निदेशक ने सीएमओ हमीरपुर से पीएचसी चकमोह के भवन अपग्रेड करने हेतु एस्टीमेट, वांछित बजट का विवरण और टिप्पणियों सहित पूरा प्रस्ताव तलब किया है ताकि इस भवन निर्माण को उपयुक्त बजट राशि का प्रबंध स्वास्थ्य विभाग कर सके।

यह जानकारी देते हुए ग्राम विकास सभा चकमोह अध्यक्ष धनी राम संगर ने कहा कि स्वास्थ्य निदेशक ने पत्र संख्या एसडब्ल्यूए-का-मुख्य (4)-के-52/91-39635 दिनांक 28 सितंबर 2021 के तहत जिला चिकित्सा अधिकारी से प्रपोज़ल मांगा है जिसके बाद पीएचसी चकमोह के भवन को अपग्रेड करने हेतु बजट मिल सकेगा। यही नहीं, ग्राम विकास सभा ने चकमोह गाँव के लोगों की हितों की रक्षा हेतु अनेक कदम उठाए हैं जिनके प्रति जिलाधीश हमीरपुर ने सभा को तीन पत्र भेजते हुए कार्यवाही की है। बाबा बालक नाथ ट्रस्ट की भर्तियों में चकमोह के लोगों को भर्तियों में प्राथमिकता कोटा देने के मामले में एसडीएम बड़सर को कार्यवाही हेतु कहा गया है और विश्वनाथ संस्कृत महाविद्यालय के सरकारीकरण बारे प्रस्ताव प्रदेश सरकार के विचाराधीन है जिसके प्रति मांगी जी रही सारी जानकारी जिलाधीश कार्यालय द्वारा सरकार को भेजी जा रही है।

ऐसे में विश्वनाथ संस्कृत कॉलेज को सरकारी बनाने जाने का रास्ता साफ हो गया है। दियोटसिद्ध में पार्किंग निर्माण हेतु सभा के द्वारा मुख्य सचिव से जिलाधीश को भेजे गए पत्र के बाद जिलाधीश ने सभा को जवाब दिया है कि यह मामला सरकार के विचाराधीन है और पार्किंग निर्माण हेतु अपुचरिकताएँ पूर्ण करने हेतु पत्राचार जारी है। ग्राम विकास सभा चकमोह के सदस्यों ने प्रदेश सरकार, स्वास्थ्य विभाग व जिलाधीश हमीरपुर का इन कार्यवाहियों हेतु आभार जताया है।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।