जहर मुक्त खेती को बढावा दें किसान : Dr. Rajesh

भारतीय देशी नस्ल की गाय (Cow) खरीदने पचास प्रतिशत अनुदान, टौणी देवी (Tauni Devi) में आयोजित शिविर में बोले कृषि विशेषज्ञ।
 | 
.

हमीरपुर । कृषि प्रौदयोगिकी प्रबंधन अभिकरण आतमा के उप परियोजना प्रमुख डा. राजेश शर्मा (Dr.Rajesh Sharma) ने कहा कि किसान को सुभाष पालेकर खेती (Subhash Palekar Farming) की प्रणाली को बढावा देना चाहिए तथा जहर मुक्त खेती करने का सुझाव दिया।  उन्होंने बताया कि भारतीय नस्ल की गाय (Cow) खरीदने पर विभाग की ओर से पचास प्रतिशत अनुदान प्रदान किया जाता है।  डा. राजेश शर्मा (Rajesh Sharma) ग्राम पंचायत बारीं के छत्रैल गांव में आयोजित दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में किसानों को विस्तृत जानकारी प्रदान कर रहे थे। 

उन्होंने सुभाष पालेकर (Subhash Palekar)  प्राकृतिक खेती (Natural Farming) के महत्व व उसकी जरूरत के बारे में लोगों को बताया।  उन्होंने कहा कि प्राकृतिक खेती (Natural Farming) की ओर सरकार व किसान अब ज्यादा ध्यान दे रहे है।  उन्होंने बताया कि प्राकृतिक खेती (Natural Farming) खुशहाल किसान योजना के तहत भारतीय नस्ल की गाय खरीदने पर पचास प्रतिशत अनुदान तथा 200 लीटर टंकी खरीदने पर 75 प्रतिशत अनुदान प्रदान किया जा रहा है। 

सहायक तकनीकी प्रबंधक शानू पठानिया ने किसानों को देसी घटक बनाने पर विस्तार से जानकारी प्रदान की।  जिसमें उन्होंने जीवामृत, घनजीवामृत, बीजीमृत, अग्निस्त्र आदि शामिल है।  कीटरोधक के लिए यह काफी उपयोगी है।  मास्टर ट्रेनर पवन कुमार ने भी प्राकृतिक खेती (Natural Farming) व अन्य विषयों पर विस्तार से जानकारी प्रदान की।

  ग्राम पंचायत बारीं के प्रधान रविंद्र ठाकुर ने आतमा की ओर से कृषि विभाग द्वारा शिविर आयोजित करने पर आभार जताया तथा इससे किसानों को प्राकृतिक खेती (Natural Farming) को बढावा देने में बल मिलेगा।  वार्ड सदस्य सोनू कुमारी, अंजना कुमारी के साथ ही कई अन्य लोग इस दौरान मौजूद रहे। 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।