सहायक मंदिर अधिकारी के खिलाफ मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर शिकायत

एसएचओ बड़सर मस्त राम नायक ने कहा कि विभागीय स्तर पर इसकी जांच चल रही है। सीएम हेल्पलाइन में शिकायत के बाद इस बारे उचित कार्रवाई के निर्देश मिले हैं।

 | 
.
 
हमीरपुर।  उत्तरी भारत के प्रसिद्ध सिद्धपीठ बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध में लगभग तीन सप्ताह पूर्व पंजाब से आए श्रद्धालुओं और सहायक मंदिर अधिकारी के बीच हुई बहस को लेकर सीएम हेल्पलाइन के दखल के बाद बड़सर पुलिस हरकत में आई है।
 पुलिस ने शिकायतकर्ता से फोन पर बात कर अगली कार्रवाई शुरू कर दी है। इससे पहले डीसी, एसडीएम, एसपी और डीजीपी हेडक्वार्टर शिमला को एसएमएस द्वारा भेजी शिकायत पर कार्रवाई न होने पर पंजाब के श्रद्धालु न्याय के लिए भटक रहे थे। शिकायत को डीजीपी कार्यालय से एसएचओ बड़सर को अगली कार्रवाई के लिए भेज दिया गया था लेकिन शिकायतकर्ता इस पर तुरंत कार्रवाई मांग रहे थे। 
शिकायतकर्ता सुधीर जैन पुत्र भूषण जैन,135-B मंडी गोबिंदगढ़,नजदीक शिवपुरी मंदिर,जिला फतेहगढ़ साहब ने पुलिस को सौंपी शिकायत में सहायक मंदिर अधिकारी दियोट सिद्ध अशोक कुमार के खिलाफ शराब पीकर रास्ता रोकना, धमकाना और अभद्र व्यवहार करने जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं तथा आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। 
शिकायत के मुताबिक वह 19 सितंबर को बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध माथा टेकने आए थे और उनके पास हिमाचल सरकार की जो गाइडलाइन है उनके मुताबिक कोविड़ ई पास भी था। हिमाचल की एंट्री व उसके बाद दियोटसिद्ध के बैरियर नम्बर 1 पर अपने कोविड ई-पास चेक कराकर जब वे बैरियर नंबर 2 पर पहुंचे तो उसी दौरान असिस्टेंट मंदिर अधिकारी जो शराब के नशे में कथित रूप से धुत्त थे। उन्होंने रास्ते में आकर अपनी गाड़ी खड़ी कर ली और अभद्र व्यवहार व गाली गलौज शुरू कर दी। शिकायतकर्ता सुधीर जैन ने आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। 
वहीं डीजीपी हेडक्वार्टर से शिकायत मिलने की पुष्टि हुई है। जिसे इवेंट आईडी नंबर 79091 के तहत आगामी कार्रवाई के लिए पुलिस स्टेशन को भेज दिया गया है।  इसके बाद सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत की गई। इस पर बड़सर पुलिस स्टेशन से एसआई सुखदेव ने शिकायतकर्ता से फोन पर संपर्क साधकर उनसे आवश्यक जानकारी जुटाई है। अब शिकायतकर्ता को उम्मीद बंधी है कि सीएम हेल्पलाइन के दखल के बाद इन्हे इंसाफ मिलेगा और आरोपी सहायक मंदिर अधिकारी के खिलाफ पुलिस कानून के तहत कार्रवाई करेगी। 
एसएचओ बड़सर मस्त राम नायक ने कहा कि विभागीय स्तर पर इसकी जांच चल रही है। सीएम हेल्पलाइन में शिकायत के बाद इस बारे उचित कार्रवाई के निर्देश मिले हैं।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।