उद्घाटन के इंतजार में करोड़ों रूपए से बनी आयुर्वेदिक अस्पताल बिझड़ी की बिल्डिंग

एक साल से तैयार है आयुर्वेदिक अस्पताल बिझड़ी का भवन, लोगों को नहीं मिल रही सुविधा , 

स्वास्थ्य सुविधाओं को दुरुस्त करने के लिए करोड़ों की लागत से अस्पताल भवन बनकर तैयार तो कर दिया गया। लेकिन एक साल बीतने के बावजूद भी इसे जनता को समर्पित नहीं किया जा सका है।

 | 
.

हमीरपुर । स्वास्थ्य सुविधाओं को दुरुस्त करने के लिए करोड़ों की लागत से अस्पताल भवन बनकर तैयार तो कर दिया गया। लेकिन एक साल बीतने के बावजूद भी इसे जनता को समर्पित नहीं किया जा सका है। हालात ये हैं कि मरीजों, तीमारदारों व स्वास्थ्य कर्मियों को किराए के भवन में जैसे तैसे व्यवस्था करनी पड़ रही है। मामला उपमंडल बड़सर में नए बने आयुर्वेदिक अस्पताल बिझड़ी का है। दस बिस्तर क्षमता के अलावा योगा व पंचकर्मा की सुविधाएं इस अस्पताल के जरिए क्षेत्र के लोगों को दी जाने की बात सरकार व स्वास्थ्य विभाग द्वारा कही जा रही हैं। लेकिन मुख्यमंत्री द्वारा उद्घाटन के इंतजार में भवन सफेद हाथी बना खड़ा है।


बताते चलें कि आयुर्वेदिक अस्पताल बिझड़ी का भवन लगभग एक साल से तैयार है। लेकिन लोगों को इसकी नहीं मिल रही है। पिछले चार वर्षों से भाजपा पदाधिकारी मुख्यमंत्री के दौरे को लेकर अपने अपने दावे करते रहे हैं। लेकिन मुख्यमंत्री के चरण कमल बड़सर की धरती पर नहीं पड़ सके, जिसका खामियाजा बड़सर क्षेत्र भुगत रहा है। विधानसभा क्षेत्र बड़सर से इस समय पूर्व विधायक बलदेव शर्मा जिलाध्यक्ष का ताज पहने हुए हैं। जबकि ढटवाल क्षेत्र से संबंध रखने वाले कमल नयन शर्मा ग्रामीण विकास बैंक के चेयरमैन व राकेश शर्मा कामगार कल्याण बोर्ड के चेयरमैन हैं।

इसके अलावा भाजपा प्रदेश प्रवक्ता विनोद ठाकुर भी बड़सर से ताल्लुक रखते हैं। लेकिन फिर भी मुख्यमंत्री का दौरा पिछले चार वर्षों में नहीं हो पाया है, जिससे क्षेत्र की जनता पशोपेश में है। बड़सर में सक्रिय भाजपा नेताओं की गुटबाजी भी जनता को रास नहीं आ रही है। लोगों ने कहा कि शायद यही कारण है कि मुख्यमंत्री अभी तक बड़सर का दौरा नहीं कर पाए। जिसका खामियाजा क्षेत्र को विकास की कीमत चुका कर उठाना पड़ रहा है।

क्षेत्र में चर्चाओं का बाजार गर्म है कि न जाने क्यों प्रदेश के मुख्यमंत्री बड़सर से पिछले चार वर्षों से दूरी बनाए बैठे हैं। जबकि वे प्रदेश की लगभग सभी विधानसभा क्षेत्रों का दौरा कर चुके हैं। बिझड़ी में चार करोड़ की लागत से बना आयुर्वेदिक अस्पतालए दियोटसिद्ध में 11 करोड़  रूपए की लागत से बनकर तैयार लंगर भवन जनता को समर्पित किया जाना है।

.

वहीं भाजपा जिलाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक बलदेव शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री शीघ्र ही बड़सर के दौरे पर आने वाले हैं। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ उनका दो दिवसीय दौरा प्रस्तावित है। जिसके दौरान कई योजनाओं के शिलान्यास व उद्घाटन किए जाएंगे।


वहीं बड़सर विस क्षेत्र के विधायक इंद्रदत्त लखनपाल ने कहा कि पिछले चार वर्षों से खुद कई बार मुख्यमंत्री से बड़सर दौरे के लिए आग्रह कर चुके हैं। लेकिन वे क्यों नहीं आ पा रहे हैं ये भाजपा के लोग ही भली भांति बता सकते हैं। उन्होंने कहा कि अगर मुख्यमंत्री आते हैं, तो वे उनका स्वागत करेंगे व बड़सर के लिए नई घोषणाओं की उम्मीद करेंगे।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।