शीघ्र जारी हों टीजीटी की पदोन्नति सूचियाँ : टीजीटी कला संघ

संघ ने प्रदेश मुख्यमंत्री व शिक्षामंत्री से अपील की है कि इन पदोन्नति सूचियों के जारी करने की प्रक्रिया तीव्र करवाई जाए और भर्ती पदोन्नति नियमावली का कड़ाई से पालन करते हुए दोनों पदोन्नति सूचियाँ जारी की जाएँ ।
 | 
..

हमीरपुर ।  टीजीटी से प्रवक्ता और टीजीटी से हेडमास्टर पदोन्नति सूचियाँ शीघ्र जारी की जाएँ । 18 अगस्त को उच्च शिक्षा विभाग ने डीपीसी करते हुए टीजीटी से प्रवक्ता पदोन्नति हेतु सूचियाँ फ़ाईनल की हैं । ऐसे में अब शेष बची प्रक्रिया को शिक्षा विभाग पूर्ण करे और टीजीटी शिक्षकों को पदोन्नति का तोहफा प्रदान करे । टीजीटी से हेडमास्टर के लिए पदोन्नति की प्रक्रिया में नियम 11 का सम्मान किया जाए और इसकी पूर्ण अनुपालना करते हुए केवल उन पदोन्नत प्रवक्ता और टीजीटी को हेडमास्टर बनाया जाए जिनका बतौर टीजीटी 8 साल सेवाकाल पूर्ण है जबकि भूतपूर्व सैनिकों को देय छूट नियमानुसार दी जाए । यह मांग राजकीय प्रशिक्षित कला स्नातक संघ की प्रदेश कार्यकारिणी ने प्रदेश सरकार से की है  ।

संघ ने प्रदेश मुख्यमंत्री व शिक्षामंत्री से अपील की है कि इन पदोन्नति सूचियों के जारी करने की प्रक्रिया तीव्र करवाई जाए और भर्ती पदोन्नति नियमावली का कड़ाई से पालन करते हुए दोनों पदोन्नति सूचियाँ जारी की जाएँ । वर्ष 2011 से पूर्व स्नातक या स्नातकोत्तर कर चुके शिक्षकों को देय अंकों की छूट का लाभ भी प्रदान किया जाए और बैकलॉग का डाटा दुरुस्त करते हुए नए सिरे से अनुपूरक पदोन्नति सूचियाँ भी अगले माह जारी की जाएँ ताकि वर्षों से पदोन्नति की राह देख रहे शिक्षकों को सेवानिवृत्ति से पहले पदोन्नति मिल सके ।

संघ के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कौशल , वरिष्ठ उपाध्यक्ष वीरभद्र नेगी, महासचिव विजय हीर , कोषाध्यक्ष मुकेश शर्मा ,डेलीगेट्स अम्बर चंद , मोहन ठाकुर ,संजय ठाकुर , देश राज , दुनी चंद , डॉ0 मनोहर अनमोल, अभिनंदन चंदेल, संगीता शर्मा , रीता बल्याणी , रीता भारद्वाज , अंजु बाला , कमला चौधरी संजीव ठाकुर , कुलदीप ठाकुर, डॉ0 कामेश्वर गुप्ता , संजय शर्मा ,सोहन सिंगटा,रणवीर तोमर, देश राज शर्मा, जिलाध्यक्ष संजय वर्मा, सीताराम पोजटा, राजेन्द्र ठाकुर, विजय बरवाल, सुभाष भारती,राकेश चौधरी, रिग्ज़िन संदप,संजय चौधरी, रविन्द्र गुलेरिया,रामकृष्ण, रमेश अत्री , अमित छाबड़ा ने कहा कि अन्य वर्गों की पदोन्नति में जितना समय लगता है , शिक्षकों की पदोन्नति में उससे कई गुणा अधिक समय लग रहा है और शिक्षा विभाग पदोन्नति और नियमितीकरण की प्रक्रिया समय पर पूर्ण करे ।

जिन शिक्षकों का अनुबंध पर कार्यकाल 30 सितंबर को पूर्ण होने वाला है , उनका डाटा भी अब स्कूलों से तलब कर लिया जाए ताकि शिक्षकों का नियमितीकरण इस बार आचार संहिता के चलते न रुक जाए । चुनावों के लिए आचार संहिता लगने से पहले अनुपूरक पदोन्नति सूची और नियमितीकरण सूची जारी करते हुए टीजीटी शिक्षकों को राहत दी जाए ।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।