बड़ाग्रां पंचायत में भू स्खलन से खतरे की जद में आए घर

गुरु का वन गांव में प्रशासन नहीं कर पाया कोई ठोस कार्रवाई, ग्रामीणों में रोष
 | 

हमीरपुर  ।  उपमंडल बड़सर  के तहत आने वाले शुक्क खड में हो रहे खनन के कारण गांव के कई घर खतरे की जद में आ चुके हैं। भू- स्खलन के कारण गांव की जमीन लगातार बैठती जा रही है।  कई नेता व प्रशासनिक अधिकारी मौका भी देख चुके हैं, लेकिन हैरानी की बात है कि अभी तक कोई उचित कदम नहीं उठाया गया है। मामला उपमंडल बड़सर की ग्राम पंचायत बड़ाग्रां के गांव गुरु का वन का है। यहां लगातार हो रहे भू- स्खलन के बाद पिछले दिनों हुई भारी बारिश से खतरा और भी बढ़ गया है।


बताते चलें कि ग्राम पंचायत बड़ाग्रां के गुरु का वन गांव की 25 कनाल के करीब भूमि भू -स्खलन की जद में आ गई है। गांव वालों नरेंद्र कुमार, गुरबख्श सिंह, करतार चंद सहित लोगों ने बताया कि स्थिति अब यह हो गई है कि कि धीरे धीरे गांव का ज्यादा हिस्सा भू स्खलन की चपेट में आने लगा है।  उन्होंने मांग की है कि यहां पर इसका कोई स्थायी समाधान किया जाए।

ग्रामीणों ने कहा कि मीडिया के ध्यान में मामला लाए जाने के बाद कई नेता व प्रशासनिक अधिकारी मौके का मुआयना कर चुके हैं, लेकिन अभी तक जमीनी स्तर पर कुछ भी नहीं हो पाया है।


वहीं  ग्राम पंचायत बड़ाग्रां प्रधान अनुराधा कुमारी ने बताया कि जो परिवार प्रभावित हुए हैं, उनको अन्य जगह शिफ्ट भी कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रभावितों की हर ढंग से सहायता की जा रही है।
उधर बीडीओ बिझड़ी सुदर्शन सिंह ने बताया कि जिन मकानों को नुकसान हुआ है, उनका आंकलन तैयार करवाया जा रहा है।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।