Hamirpur : एनआईटी ने 2500 रुपये बढ़ाई एल्युमनी फीस, छात्र कल्याण शुल्क अब 700 रुपये

एनआईटी हमीरपुर के रजिस्ट्रार प्रो विनोद कपूर ने कहा कि संस्थान ने शैक्षणिक सत्र 2022-23 के लिए छात्र-छात्राओं के लिए एल्युमनी, छात्र कल्याण और हॉस्टल शुल्क की नई दरें तय कर दी हैं।  जबकि पुराने विद्यार्थियों पर यह नई शुल्क की शर्तें लागू नहीं होंगी।
 | 
photo

हमीरपुर ।  राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान हमीरपुर ने शैक्षणिक सत्र 2022-23 के लिए छात्र-छात्राओं के लिए शुल्क की नई दरें तय कर दी हैं। यह शुल्क वर्तमान शैक्षणिक सत्र में दाखिला लेने वाले नए छात्रों के लिए होगा। जबकि पुराने विद्यार्थियों पर यह नई शुल्क की शर्तें लागू नहीं होंगी। संस्थान ने कुछ मदों में ही शुल्क में बढ़ोतरी की है। अब पूर्व छात्र सदस्यता (एल्युमनी) शुल्क प्रति सेमेस्टर 500 रुपये देना होगा। यानि बीटेक के विद्यार्थियों को डिग्री पूरी करने के आठ सेमेस्टर के दौरान कुल 4000 रुपये एल्युमनी फीस देनी होगी। जबकि पूर्व में एकमुश्त 1500 रुपये एल्युमनी फीस वसूली जाती थी। लेकिन अब नई व्यवस्था में हर बार नए सेमेस्टर में दाखिले के दौरान एल्युमनी शुल्क देना होगा।

वहीं छात्र कल्याण शुल्क भी 700 रुपये निर्धारित किया गया है। पूर्व में प्रति सेमेस्टर 500 रुपये शुल्क लिया जाता था। इसके अलावा छात्रावास शुल्क में भी वृद्धि की गई है। एनआईटी हमीरपुर के रजिस्ट्रार प्रो विनोद कपूर ने कहा कि संस्थान ने शैक्षणिक सत्र 2022-23 के लिए छात्र-छात्राओं के लिए एल्युमनी, छात्र कल्याण और हॉस्टल शुल्क की नई दरें तय कर दी हैं। 



स्नातक में यह रहेगा शुल्क


प्रथम सेमेस्टर में अनारक्षित श्रेणी के छात्र को 84950 रुपये, एससी, एसटी, दिव्यांग छात्र को 22,450 रुपये, एक लाख से कम आय वाले छात्र को 22,450 रुपये, एक लाख से पांच लाख आय वाले छात्र को 43,283 रुपये शुल्क अदा करना होगा। इसी तरह दूसरा, चौथा, छठा, आठवां और दसवें सेमेस्टर में अनारक्षित श्रेणी के छात्र को 76,250 रुपये, एससी, एसटी, दिव्यांग छात्र को 13,950 रुपये, एक लाख से कम आय वाले छात्र को 13,950 रुपये, एक लाख से पांच लाख आय वाले छात्र को 34,783 रुपये शुल्क अदा करना होगा। तीसरे, पांचवें, सातवें और नौवें सेमेस्टर में अनारक्षित श्रेणी के छात्र को 76,700 रुपये, एससी, एसटी, दिव्यांग छात्र को 14,200 रुपये, एक लाख से कम आय वाले छात्र को 14,200 रुपये, एक लाख से पांच लाख आय वाले छात्र को 35,033 रुपये शुल्क अदा करना होगा।



स्नातकोत्तर में शुल्क


एमटेक प्रथम सेमेस्टर में अनारक्षित श्रेणी, ओबीसी और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्र को 57,420 रुपये और एससी/एसटी/ दिव्यांग वर्ग के छात्र को 22,450 रुपये शुल्क, दूसरे और चौथे सेमेस्टर में अनारक्षित श्रेणी, ओबीसी और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्र को 48,950 रुपये और एससी/एसटी/ दिव्यांग वर्ग के छात्र को 13,950 रुपये, तीसरे सेमेस्टर में अनारक्षित श्रेणी, ओबीसी और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्र को 49,200 रुपये और एससी/एसटी/ दिव्यांग वर्ग के छात्र को 14,200 रुपये शुल्क, नौवें सेमेस्टर में अनारक्षित श्रेणी, ओबीसी और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्र को 49,200 रुपये और एससी/एसटी/ दिव्यांग वर्ग के छात्र को 14,200 रुपये, दसवें सेमेस्टर में अनारक्षित श्रेणी, ओबीसी और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्र को 48,950 रुपये और एससी/एसटी/ दिव्यांग वर्ग के छात्र को 13,950 रुपये शुल्क का भुगतान करना होगा।  एमआर्क प्रथम सेमेस्टर में 57,450 रुपये, दूसरे और चौथे सेमेस्टर में 48,950 रुपये और तीसरे सेमेस्टर में 49,200 रुपये शुल्क देना होगा। इसी तरह एमएससी में प्रथम सेमेस्टर में 29,950 रुपये शुल्क, दूसरे और चौथे में 21,450 रुपये और तीसरे सेमेस्टर में 21,700 रुपये शुल्क देना होगा।



ट्यूशन फीस के अलावा विभिन्न प्रकार के शुल्क


एडमिशन फीस 1000 रुपये, पहचान पत्र शुल्क 250 रुपये, दीक्षांत शुल्क 1,500 रुपये, विभाग समिति सदस्यता शुल्क 500 रुपये, हॉस्टल, लाइब्रेरी और संस्थान चेतावनी शुल्क 5,000 रुपये, छात्र सुरक्षा बीमा शुल्क 250 रुपये, परीक्षा शुल्क 750 रुपये, स्वास्थ्य शुल्क 500 रुपये, लाइब्रेरी पंजीकरण शुल्क 500 रुपये, छात्र कल्याण शुल्क 700 रुपये, सांस्कृतिक कार्यक्रम शुल्क 500 रुपये, तकनीकी गतिविधि शुल्क 500 रुपये, सेमिनार एवं कान्फ्रेंस शुल्क 500 रुपये, खेल शुल्क 500 रुपये, इंटरनेट शुल्क 1500 रुपये, कॉमन फेसिलिटी शुल्क 500 रुपये, कमरा किराया 2,500 रुपये, ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट शुल्क 500 रुपये, संस्थान विकास शुल्क 4,000 और पूर्व छात्र शुल्क 500 रुपये निर्धारित किया गया गया है।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।