प्रधानमंत्री के दूसरे घर हिमाचल में फिर से सरकार बनानी है : धूमल

वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री प्रोफेसर प्रेम कुमार धूमल ने  हमीरपुर के गांधी चौक पर प्रधानमंत्री के जन्मदिन के अवसर पर रखे कार्यक्रम में हमीरपुर संसदीय क्षेत्र की 17 विधानसभाओं के लिए प्रचार प्रसार रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। पूर्व मुख्यमंत्री ने हमीरपुर में कार्यकर्ताओं को अगले 45 दिन पार्टी के लिए देने का दिलाया संकल्प।
 | 
हमीरपुर संसदीय क्षेत्र की 17 विधानसभाओं के लिए प्रचार प्रसार रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना

हमीरपुर ।    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे घर हिमाचल प्रदेश में फिर से सरकार बनानी है। यह हम सब हिमाचल वासियों का सौभाग्य है कि पूर्व में श्रद्धेय अटल बिहारी बाजपेई और अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिमाचल प्रदेश को अपना दूसरा घर मानते हैं। क्योंकि प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं तो घरवालों का दायित्व और भी बढ़ जाता है। इसलिए  प्रधानमंत्री के दूसरे घर में फिर से पार्टी की सरकार बनाकर अपना दायित्व निभाना है।

वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री प्रोफेसर प्रेम कुमार धूमल ने शनिवार को हमीरपुर के गांधी चौक पर प्रधानमंत्री के जन्मदिन के अवसर पर रखे कार्यक्रम में हमीरपुर संसदीय क्षेत्र की 17 विधानसभाओं के लिए प्रचार प्रसार रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने से पूर्व उपस्थित सैकड़ों कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए यह बात कही। इस अवसर पर विशेष रूप से प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप प्रदेश सरकार के खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के मंत्री राजेंद्र गर्ग मौजूद रहे। 

      पूर्व मुख्यमंत्री ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि विधानसभा चुनावों के लिए अब केवल 40 45 दिन ही शेष बचे हैं। यह समय बहुत ही महत्वपूर्ण है और परिश्रम करने का समय है। प्रधानमंत्री के जन्मदिन के अवसर पर आओ हम सब मिलकर संकल्प लें कि आने वाले 45 दिन हम सब विश्व के सबसे बड़ी राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी को पूर्णता समर्पित होकर देंगे।
........
हम सब कार्यकर्ताओं के परिश्रम से हमारी पार्टी विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी बनी है कार्यकर्ताओं ने धरती पर मन लगाकर काम किया है तब पार्टी सबसे बड़े स्थान पर पहुंची है । केंद्र सरकार के पिछले साढे 8 वर्षों के कार्यकाल में और प्रदेश सरकार के पौने 5 वर्ष के कार्यकाल में बहुत सारे काम बहुत सारी योजनाएं बहुत जनकल्याण की नीतियां जनता के लिए लागू की गई है उनकी याद दिलाने के लिए पार्टी आज सभी विधानसभाओं में प्रचार-प्रसार रथ भेज रही है। 
प्रचार प्रसार हेतु भेजी जा रही गाड़ियों को भले ही प्रचार प्रसार रथ का नाम दिया गया है लेकिन किसके नाम का अर्थ कोई राजपाठ से जोड़ कर ना देखे बल्कि यह रथ उस सेवा से जुड़े हैं जो केंद्र और प्रदेश सरकार ने साढ़े आठ और पौने पांच  वर्षों के कार्यकाल में की है। वह सेवा प्रदेश के लोगों को याद दिलाएंगे और फिर हिमाचल में पार्टी की सरकार बनाकर अपना अपना दायित्व हम निभाएंगे। 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।