38 - हमीरपुर निर्वाचन क्षेत्र के मतदाताओं के लिए चलाया जाएगा ईवीएम और वीवीपैट प्रदर्शन सह जागरूकता अभियान

निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि  प्रत्येक टीम के साथ तैनात अन्य अधिकारी ईवीएम/वीवीपीएटी के सुरक्षित परिवहन के लिए उनकी सहायता करेंगे, वे विशेष स्थान पर प्रदर्शन सह जागरूकता कार्यक्रम के दिन से पहले संबंधित मतदान केंद्र के बूथ स्तर के अधिकारी से संपर्क करेंगे।
 | 
...

हमीरपुर ।  38-हमीरपुर विधानसभा क्षेत्र के निर्वाचन अधिकारी मनीष कुमार सोनी  ने जानकारी दी  कि आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मतदाताओं को वोटिंग मशीनों (ईवीएम)  व वीवीपैट की पूर्ण जानकारी दी जाएगी, इसके लिये निर्वाचन विभाग द्वारा 17 सितम्बर  से ईवीएम और वीवीपैट प्रदर्शन सह जागरूकता अभियान चलाया जाएगा ।  ताकि मतदाताओं को वोटिंग मशीनों ईवीएम व वीवीपैट के प्रयोग करने की प्रक्रिया वारे पूरी तरह से जानकारी प्रदान की जा सकें।

उन्होंने  कहा कि  38-हमीरपुर  निर्वाचन क्षेत्र के लिये वोटिंग मशीनों व वीवीपैट हेतू जागरूक करने वाली टीमों का गठन किया गया है जिसमें चिन्हित इंजीनियर वोटिंग मशीनों (ईवीएम) व वीवीपैट के प्रयोग हेतु विभिन्न मतदान केंद्रों में जानकारी देंगे । ताकि मतदाता  वोटिंग मशीनों हेतु चल रहें इस कार्यक्रम में ईवीएम की कार्यप्रणाली की जानकारी हासिल कर सकें,  ताकि आगामी चुनावों में मतदाता निसंकोच अपने मत का प्रयोग कर सके तथा मतदाता अधिक से अधिक अपने मत का प्रयोग कर  सके।


         निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि  प्रत्येक टीम के साथ तैनात अन्य अधिकारी ईवीएम/वीवीपीएटी के सुरक्षित परिवहन के लिए उनकी सहायता करेंगे, वे विशेष स्थान पर प्रदर्शन सह जागरूकता कार्यक्रम के दिन से पहले संबंधित मतदान केंद्र के बूथ स्तर के अधिकारी से संपर्क करेंगे। जागरूकता अभियान के लिए ईवीएम/वीवीपीएटी नोडल अधिकारी अशोक पठानिया, तहसीलदार हमीरपुर दैनिक आधार पर जिला कोषालय कार्यालय हमीरपुर के परिसर में ईवीएम और वीवीपैट मशीनों को  जारी व प्राप्त करेंगे । उन्होंने  कहा कि अभियान के दौरान, चिन्हित इंजीनियर इस संबंध में भारत के चुनाव आयोग  के दिए  निर्देशों का कड़ाई से पालन करेंगे।


             निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि  खुले क्षेत्र में प्रदर्शन और जागरूकता  सम्बंधी जानकारी नहीं दी जाएगी, क्योंकि वीवीपैट को सीधी धूप से बचाना होता है। प्रदर्शन/जागरूकता के दौरान बैलेट यूनिट और वीवीपैट को एक साथ रखा जाएगा ताकि मतदाता उसे देख सकें । उन्होने कहा कि  दैनिक आधार पर सभी प्रतिभागियों के वोट और हस्ताक्षर रिकॉर्ड करने के लिए एक रजिस्टर लगाया जाना आवश्यक है व  प्रदर्शन के अंत में, कंट्रोल यूनिट के इलेक्ट्रॉनिक परिणाम को साफ़ कर दिया जाएगा और वीवीपैट पर्चियों को वीवीपैट ड्रॉप बॉक्स से हटा दिया जाएगा।

ऐसे सभी वीवीपैट पर्चियों को उचित लेखा के साथ सुरक्षित अभिरक्षा में रखना जाएगा और नोडल अधिकारी ईआरओ जगदीप सिंह ठाकुर योजना अधिकारी, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग के पास अधोहस्ताक्षरी के कार्यालय में जमा करना होगा। अभियान में  ईवीएम/वीवीपीएटी की आवाजाही उचित सुरक्षा व्यवस्था के साथ की जाएगी।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।