सरकार से मिला शगुन, जगत राम ने धूमधाम से किया बेटी का ब्याह

मुख्यमंत्री शगुन योजना के तहत शादी के लिए मिले 31 हजार रुपये, हमीरपुर जिला के 326 गरीब परिवारों को किया जा चुका है लाभान्वित ।
 | 
 शगुन योजना ने प्रदेश के गरीब परिवारों की बहुत बड़ी चिंता दूर कर दी

हमीरपुर । अपनी लाडली बेटी की धूमधाम से शादी करके उसे घर से विदा करना हर मां-बाप का सपना होता है, लेकिन कई बार पैसे की कमी के कारण गरीब मां-बाप के ये सपने साकार नहीं हो पाते हैं। ऐसे गरीब परिवारों के दर्द को समझते हुए प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री शगुन योजना आरंभ की है। अब हिमाचल प्रदेश के किसी भी गरीब परिवार को अपनी बेटियों की शादी के लिए पैसे की चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। गरीब मां-बाप भी शगुन योजना की मदद से अपनी बेटियों की शादी धूमधाम से कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा अप्रैल 2021 में आरंभ की गई शगुन योजना ने प्रदेश के गरीब परिवारों की बहुत बड़ी चिंता दूर कर दी है। अब ये परिवार भी बड़ी धूमधाम से अपनी बेटियों को विदा कर रहे हैं। जिला हमीरपुर की ग्राम पंचायत नंधन के गांव सेऊ के जगत राम के लिए भी मुख्यमंत्री शगुन योजना बहुत बड़ा सहारा साबित हुई है।  बीपीएल परिवार से संबंधित जगत राम आर्थिक तंगी के कारण बेटी के विवाह के लिए पर्याप्त धनराशि नहीं जुटा पा रहे थे।

सगे-संबंधी भी मदद के लिए तैयार थे परंतु इससे भी बेटी के विवाह पर होने वाला खर्च पूरा होने वाला नहीं था। इन्हीं परेशानियों और बेटी की शादी की तैयारियों के बीच वह स्थानीय ग्राम पंचायत प्रधान से बेटी की शादी के लिए सरकार से कुछ आर्थिक मदद दिलवाने और उन्हें शादी का निमंत्रण देने के लिए गए। इसी दौरान जगत राम को पंचायत प्रधान से मुख्यमंत्री शगुन योजना की जानकारी मिली। प्रधान ने जगत राम को बताया कि मुख्यमंत्री शगुन योजना के तहत गरीब परिवारों की बेटियों के विवाह के लिए 31000 रुपये का अनुदान मिलता है।

प्रधान से यह जानकारी मिलने के बाद जगत राम के मन में एक आस जगी और उन्होंने अपनी बेटी के विवाह के लिए मुख्यमंत्री शगुन योजना के अंतर्गत मिलने वाली अनुदान राशि के लिए बाल विकास परियोजना अधिकारी भोरंज के कार्यालय में आवेदन किया। उन्हें बेटी की शादी के लिए 31000 रुपये की अनुदान राशि प्राप्त हुई। इस योजना की मदद से जगत राम ने अपनी बेटी की शादी बड़ी धूमधाम से की।  जगत राम का कहना है कि गरीब मां-बाप और उनकी बेटियों के लिए प्रदेश सरकार की ओर से इससे बड़ा उपहार और क्या हो सकता है?

उधर, महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी हुक्म चंद शर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री शगुन योजना के अंतर्गत हमीरपुर जिला में अभी तक 326 गरीब परिवारों की बेटियों को 31-31 हजार रुपये की राशि प्रदान की जा चुकी है। उन्होंने  बताया कि मुख्यमंत्री शगुन योजना के लिए बाल विकास परियोजना अधिकारी के कार्यालय में या आंगनबाड़ी वर्कर तथा सुपरवाईजर के माध्यम से निर्धारित प्रपत्र पर आवेदन किया जा सकता है।

आवेदन स्वीकृत होने के बाद योजना के अंतर्गत मिलने वाली अनुदान राशि सीधे आवेदक के बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाती है।  इस प्रकार गरीब परिवारों की कन्याओं की शादी पर प्रदेश सरकार की ओर से मिलने वाला 31 हजार रुपये का शगुन इन परिवारों के लिए बहुत बड़ा सहारा बन रहा है।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।