एचआरटीसी को 195 नई बसें जल्द, हिमाचल में बंगलुरु से पहुंचेंगी 50 एसी और 145 नॉन एसी गाडिय़ां

एचआरटीसी की इन बसों में अब आरामदायक सफर का अनुभव होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि इन बसों में सीट पुश के साथ चार्जिंग की सुविधा भी मिलेगी।
 | 
हिमाचल में बंगलुरु से पहुंचेंगी 50 एसी और 145 नॉन एसी गाडिय़ां, चार्जिंग सुविधा भी

शिमला ।  एचआरटीसी के बेड़े में 195 नई बसें जल्द ही शामिल होने वाली हैं। ये नई बसें बंगलुरु से आने वाली हैं। मई महीने ये बसें हिमाचल प्रदेश पहुंच जाएंगी। 195 नई बसों में से 50 एसी बसें हैं और 195 ऑर्डिनरी बसे हैं। एचआरटीसी की इन बसों में अब आरामदायक सफर का अनुभव होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि इन बसों में सीट पुश के साथ चार्जिंग की सुविधा भी मिलेगी। एचआरटीसी अधिकारियों का कहना है कि इन बसों की खरीद की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। एचआरटीसी प्रबंधन ने इस बार अशोक लीलैंड कंपनी से नई बसों की खरीद की है।

इससे पहले की बसें टाटा कंपनी से खरीदी गई थीं। इन बसों में बीएस सिक्स इंजन होगा। इस इंजन की खासियत यह है कि इसमें प्रदूषण न के बराबर होगा। इसमें खास तरह के फिल्टर लगे हैं। इनसे धुएं से प्रदूषण का स्तर बिलकुल कम हो जाता है। बस के साइलेंसर को भी विशेष तौर पर कवर किया गया है। इसके चलते इंजन की आवाज पुरानी बसों की अपेक्षा बेहद कम आती है। बसों की पीडीआई (प्री डिलीवरी इंस्पेक्शन) के लिए एचआरटीसी अधिकारियों को बंगलूरु भेजने की तैयारी है। एसी डीलक्स हिमधारा बसों में सफर को सुविधाजनक बनाने के लिए वोल्वो की तरह आरामदायक सीटें लगाई गई हैं।

नीलाम होंगी पुरानी बसें

नई बसों के आने के बाद एचआरटीसी की पुरानी खटारा बसों को नीलाम करेगी। पुरानी बसें, जो कि नौ लाख किलोमीटर चल चुकी हैं या फिर नौ साल से चल रही थीं, ऐसी बसों को परिवहन निगम के बेड़े से हटाया जाएगा। इनकी जगह नई को बसों को शामिल किया जाएगा। प्रदेश के जिन रूटों पर कम बसें चलती हैं, उन रूटों पर अतिरिक्त बसें चलाई जा सकती हैं। इसके अलावा जिन बसों की हालत बहुत ज्यादा खस्ता हो चुकी है, उनको भी रिप्लेस किया जा सकता है। 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।