हिमाचलः पानी की पाइप लाइन से निकला मरा हुआ सांप, ये ही पानी पी रहे थे ग्रामीण

सोचिए! अगर आपको पता चले कि जो पानी आप पी रहे हैं, वो पानी मरे हुए जहरीले सांप के शरीर से रिसते हुए आप तक पहुंच रहा है, तो आपकी क्या हालत होगी।

 | 
सोचिए! अगर आपको पता चले कि जो पानी आप पी रहे हैं, वो पानी मरे हुए जहरीले सांप के शरीर से रिसते हुए आप तक पहुंच रहा है, तो आपकी क्या हालत होगी।

हमीरपुर। पानी... इंसान की मूलभूत जरूरतों में से एक। सोचिए! अगर आपको पता चले कि जो पानी आप पी रहे हैं, वो पानी मरे हुए जहरीले सांप के शरीर से रिसते हुए आप तक पहुंच रहा है, तो आपकी क्या हालत होगी। सोचकर ही रौंगटे खड़े हो गए न, ऐसे पानी को तुरंत उल्टी कर देने का मन भी करेगा। हिमाचल प्रदेश के एक गांव में रहने वाले ग्रामीण इन दिनों कुछ इसी तरह दिक्कत से गुजर रहे हैं। इस गांव का नाम है हनोह, जो कि हमीरपुर जिला के भोरंज उपमंडल में आता है। यहां पेयजल लाइन से सफाई के दौरान कीड़े या गंदगी नहीं बल्कि मरा हुआ सांप निकला है। 

जानकारी के अनुसार उपमंडल भोरंज में जलशक्ति विभाग की पेयजल पाइप से मरा हुआ सांप निकला है। इससे हनोह गांव के ग्रामीण घबराए हुए हैं। हनोह गांव में पिछले 8-10 दिनों से पानी नहीं आ रहा था। जबकि आसपास के अन्य गांवों में पानी सुचारु रूप से आ रहा था। तब ग्रामीणों ने पानी की पाइप को खुलवाया तो इसमें मरा हुआ सांप मिला है। ग्रामीणों ने इसकी सूचना जल शक्ति विभाग के अधिकारियों को दी। सूचना मिलने के बाद विभाग के अधिकारियों ने मौके पर जांच की और तुरंत पानी के टैंक की सफाई करवाई व दवाई डालकर क्लोरीनेशन करवाकर पानी की पाइपों को भी साफ करवाया गया। 

ऐसी संभावना जताई जा रही है कि जब यह सांप पाइप के भीतर फंसा तो कई दिनों तक लोगों को दूषित पानी की आपूर्ति भी हुई होगी। कुछ वर्ष पूर्व राजधानी शिमला में भी दूषित पानी के कारण डायरिया और पीलिया फैला था। जिसके चलते जलशक्ति विभाग के कुछ अधिकारियों पर कार्रवाई भी हुई थी। इसके बावजूद विभाग पेयजल स्रोतों को दूषित होने से नहीं बचा पा रहा। जलशक्ति विभाग की कारगुजारी पर लोगों ने रोष जताया है। लोगों को आरोप है कि कई दिनों से गांव में पानी नहीं आ रहा था, जब पाइप लाइन खुलवाई गई तो उसमें मरा हुआ सांप फंसा था।

भोरंज जल शक्ति विभाग के अधिशाषी अभियंता ओपी भारद्वाज ने कहा कि पानी के पाइप में मरा हुआ सांप मिलने की जानकारी मिली है। वैसे तो सांप के टैंक में घुसने के बहुत कम चांस होते हैं फिर भी पता लगा रहे हैं कि सांप कहां से पाइप के अंदर घुसा है। टैंक की क्लोरीनेशन करवाकर साफ करवा दिया है। विशेषज्ञों से बात की गई है। कोई खतरे वाली बात नहीं है। फिर भी पूरी जांच की जा रही है।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।