सत्ती ने 56 टॉपर बच्चियों को दी 21-21 हजार की प्रोत्साहन राशि

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर जिलास्तरीय समारोह का आयोजन सोमवार को राजकीय कन्या महाविद्यालय, लाल सिंगी में हुआ। समारोह की अध्यक्षता छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने की।
 | 
una news

ऊना। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर जिलास्तरीय समारोह का आयोजन सोमवार को राजकीय कन्या महाविद्यालय, लाल सिंगी में हुआ। समारोह की अध्यक्षता छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने की। समारोह का शुभारंभ असूज नवरात्र के उपलक्ष्य पर 51 कन्याओं का कंजक-पूजन कर किया गया। मुख्यातिथि ने इस मौके पर कन्याओं के चरण धोए और माता की चुनरी भेंट कर आशीर्वाद लिया। उन्होंने हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड सहित आईसीएससी और सीबीएससी में 10वीं और 12वीं कक्षाओं की 56 टॉपर बालिकाओं को 21-21 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि से सम्मानित किया।

una News

सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि बालिकाओं को संरक्षण प्रदान करने और लड़कों की भांति उन्हें भी समाज की मुख्यधारा में आगे आने का मौका देने के लिए जन साधारण को प्रेरित करने के उद्देश्य से अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। लड़कियों की शिक्षा और उनके सपनों को पूरा करने के लिए हरसंभव प्रयास करने पर ध्यान केन्द्रित करना भी बालिका दिवस मनाने का एक मुख्य लक्ष्य है। आज बेटियां बेटों से किसी भी क्षेत्र में कम नहीं हैं। चाहे शिक्षा का क्षेत्र हो अथवा स्वास्थ्य, प्रशासनिक सेवा, अनुसंधान, राजनीति सहित अन्य सभी क्षेत्रों में लड़कियां अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रही हैं। 

सत्ती ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत जिला प्रशासन के प्रयासों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि किसी समय चिंता का विषय रहा शिशु लिंगानुपात जिला प्रशासन के सार्थक प्रयासों से आज बेहतर स्थिति में है। आशा है कि आने वाले समय में इस अंतर में और अधिक सुधार देखने को मिलेगा।  प्रसव पूर्व लिंग जांच पर पूर्ण अंकुश लगाने के लिए सभी को एकजुट होना होगा, ताकि लिंगानुपात की असमानता को कम किया जा सके। उन्होंने कहा कि बेटियों के उत्थान के लिए गरिमा योजना, शगुन योजना, मेरे गांव की बेटी मेरी शान जैसी कई योजनाएं क्रियान्वित की जा रही हैं। 

una news


इस मौके पर सतपाल सिंह सत्ती ने हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड सहित आईसीएससी और सीबीएससी में 10वीं और 12वीं कक्षाओं की 56 टॉपर बालिकाओं को 21-21 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि से सम्मानित किया। इसके अलावा उन्होंने 13 पात्र परिवारों को शगुन योजना के तहत 31-31 हजार रुपये की सहायता राशि भी प्रदान की। इस अवसर पर जिला कार्यक्रम अधिकारी आईसीडीएस सतनाम सिंह, सीडीपीओ ऊना कुलदीप सिंह दयाल, सीडीपीओ बंगाणा हरीश मिश्रा, सीडीपीओ अंब अनिल कुमार, सीडीपीओ गगरेट रवि शंकर भारद्वाज और महाविद्यालय के प्रधानाचार्य आर.के. शर्मा, महिला कल्याण बोर्ड की सदस्य मोनिका सिंह, सक्षम गुड़िया बोर्ड की सदस्य डाॅ. देव कला सहित अन्य उपस्थित रहे। 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।