मुख्यमंत्री के गृह क्षेत्र में सुरक्षित नहीं महिलाएं, सराज में किरायेदार ने किया नाबालिग से दुष्कर्म

मां-बाप ने जब बच्ची की बातों को सच नहीं माना तो नाबालिग ने अपनी बुआ और दादा-दादी को मामले की जानकारी दी। इसके बाद पीड़िता ने दादा के साथ पुलिस थाने में आकर शिकायत दर्ज करवाई है।
 | 
rape

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के गृह क्षेत्र सराज में एक नाबालिग बच्ची से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। यहां किराये के कमरे में रह रहा एक युवक नाबालिग से करीब पांच माह तक दुष्कर्म करता रहा। मां-बाप ने जब बच्ची की बातों को सच नहीं माना तो नाबालिग ने अपनी बुआ और दादा-दादी को मामले की जानकारी दी। इसके बाद पीड़िता ने दादा के साथ पुलिस थाने में आकर शिकायत दर्ज करवाई है। यह शिकायत मंडी जिला के जंजैहली में दर्ज की गई है।

जानकारी के अनुसार सराज क्षेत्र की 17 साल की नाबालिग ने अपने दादा के साथ थाने में पहुंचकर पुलिस को शिकायत दी है। इसमें आरोप लगाया है कि आरोपित 2018 से उनके घर में किरायेदार के रूप में रह रहा है। वह शंकरदेहरा में रेडीमेड कपड़ों की दुकान करता है। बीते वर्ष जब वह 12वीं कक्षा में पढ़ती थी तो आरोपित ने परिवार के सामने उसे एक मोबाइल फोन खरीदकर दे दिया। इसके बाद वह मोबाइल फोन पर मैसेज के जरिए संपर्क करने लगा।


जागरण की रिपोर्ट के मुताबिक पीड़िता ने बताया कि आरोपित जब भी घर जाता था तो उसे अश्लील वीडियो भेजता रहता था। जब वह उनके घर किराये के कमरे पहुंचता था तो फोन कर, परिवार की सहायता करने की बात कर उसे कमरे में बुलाता था। उसने शिकायत में कहा है कि आरोपित उसे मजबूर कर मई से दुष्कर्म करता आ रहा है। हालांकि नाबालिग ने अपने माता-पिता पर भी आरोप लगाया है कि जब उसने उन्हें इसकी जानकारी दी, तो उल्टा उसे ही गलत ठहराया।

नाबालिग पीड़िता ने कहा कि जब घर का कोई सदस्य उसकी बात नहीं सुन रहा था, तो उसने अपनी बड़ी बुआ को इसकी जानकारी दी। बाद में वह अपने दादा और दादी के पास दूसरे मकान में आ गई और उन्हें सारी बात सुनाई। फिर दादा के साथ आकर पुलिस थाने में आकर उसने शिकायत दर्ज करवाई। सहायक पुलिस अधीक्षक मंडी आशीष शर्मा ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि आरोपी के खिलाफ आइटी एक्ट के तहत भी मामला दर्ज कर लिया है।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।