1948 मिडल School में सृजित करें हेडमास्टर्स के पद

प्राइमरी School में हेड टीचर है तो मिडल स्कूलों में हेडमास्टर क्यों नहीं, बीपीओ पदों पर हो  TGT कला शिक्षकों की नियुक्ति 
 | 
.

हमीरपुर। प्रदेश में खण्ड स्तर पर प्रोग्राम ऑफिसर के पदों पर टीजीटी (TGT) कला शिक्षकों की नियुक्ति की जाए। प्रदेश में करीब 224 खंड स्तरीय बीपीओ (B.P.O) के पद लंबे समय से रिक्त पड़े हैं। इसके अलाव करीब 200 पद हेडमास्टर (Headmaster) के रिक्त हैं। प्रदेश के टीजीटी (TGT) कला शिक्षक सरकार ये यह मांग लंबे समय से उठा रहे हैं कि बीपीओ के रिक्त पदों को वरिष्ठ टीजीटी (TGT) कला शिक्षकों की नियुक्ति से भरा जाए और मिडल स्कूलों में भी हेडमास्टर्स के पद सृजित किए जाएं।

यह मांग राजकीय टीजीटी (TGT) कला संघ के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कौशल, उपाध्यक्ष मदन लाल, महासचिव विजय हीर, डेलीगेट्स संजय ठाकुर, देश राज, दुनी चंद, ओमप्रकाश, संगठन शाखा सचिव वीरभद्र नेगी, सोहन सिंगटा, रणवीर तोमर, देश राज शर्मा, डॉ. सुनील दत्त, जिलाध्यक्ष संजय वर्मा, सीता राम पोजता, राजेन्द्र ठाकुर, विजय बरवाल, सुभाष भारती,राकेश चौधरी, रिग्ज़िन संदप, संजय चौधरी, रविन्द्र गुलेरिया, रामकृष्ण, पुष्पराज और अमित छाबड़ा ने प्रदेश सरकार से की है।

संघ महासचिव विजय हीर (Vijay Heer) ने कहा कि मिडल स्कूलों में हेडमास्टर्स के पसद सृजित करना आवश्यक है क्योंकि सूबे के 1948 मिडल स्कूल (School)  बिना हेडमास्टर (Headmaster)  चल रहे हैं। इन स्कूलों में पहले ही स्टाफ और सुविधाओं की कमी है। संघ ने सरकार से पूछा है कि जब प्राथमिक स्कूल में हेड टीचर की पोस्ट आवश्यक है तो मिडल स्कूलों में हेडमास्टर के पद आवश्यक क्यों नहीं हैं। डीडीओ (D.D.O) पावर के बिना भी बहुत सारे हाई स्कूलों में हेडमास्टर्स के पद मौजूद हैं तो मिडल स्कूलों में भी यह पद सृजित करना संभव है। इससे कारण स्टाफ की कमी भी दूर हो सकेगी।

यह भी पढ़ेंः- Medical College Hamirpur में शुरू हुई ENT की अत्याधुनिक सर्जरी सुविधा

ऐसे में टीजीटी (TGT) कैडर से हेडमास्टर (Headmaster) पदोन्नति का अवसर हज़ारों शिक्षकों को नहीं मिल रहा जबकि बी पी ओ के 224 पद भरने के लिए भी भर्ती पदोन्नति नियमों का निर्माण किया जाना आपेक्षित है। संघ ने चुनावी ड्यूटी कर रहे शिक्षकों के यात्रा भत्ते और मानदेय अविलंब देने की अपील राज्य चुनाव आयोग को भेजी है और प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड (Hpbose) से अपील की है कि सभी टेबुलेशन कमेटी मानदेय को जारी किया जाए ।इसके अलावा शिक्षा बोर्ड समस्त विषयों के मॉडल टैस्ट पेपर्स, टर्म 1 और 2 का फाइनल पाठ्यक्रम टाइप करके जारी करने की अपील की है ताकि परीक्षा की तैयारियां ठीक से पूरी की जा सकें।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहांक्लिक  करें। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट पाने के लिए हमेंगूगल न्यूज पर फॉलो करें।